Film Director Shekhar Kapur ( Best Film Bandit Queen )

Share:

Film Director Shekhar Kapur  ( Best Film Bandit Queen ) 


भारतीय फिल्म जगत में शेखर कपूर का नाम बिल्कुल अलग ढंग से लिया जाता है | सिर्फ एक फिल्म जो दुनिया भर में हर किस्म की अवार्ड ले चुकी है | जिस एक फिल्म के लिए हिंदी फिल्म जगत को दुनिया में ऐसी ख्याति मिली जो भारत का फिल्म जगत कभी भूल नहीं सकता वही यह मशहूर फिल्म है |

बैंडिट क्वीन जब यह फिल्म भारत में रिलीज हुई थी सेंसर में हजारों कट लगाएं लेकिन फिर भी जितनी फिल्म बनी थी भारतीय सभ्यता के अनुसार बहुत ही ज्यादा अश्लील दृश्य थे फिल्म के अंदर अभिनेत्री को पूरी नग्न अवस्था में दिखाना भारत में कभी ऐसा हुआ नहीं था |

और ना कभी ऐसा होगा फिल्म के एक दृश्य के अनुसार खलनायक अभिनेत्री को संपूर्ण नग्न अवस्था में पानी भरने के लिए भेजता है जिसकी भारतीय संस्कृति में कल्पना भी नहीं किया जा सकता है | जो अविश्वसनीय है फिर भी यह फिल्म भारत में प्रसारित की गई और लोगों ने इसे देखा भारतीय व्यक्ति जब कभी इस फिल्म को देखता है आश्चर्यचकित हो जाता है |


कि किस तरीके से इस फिल्म को भारत में प्रदर्शित किया गया है फिल्म में ऐसे दृश्य थे जिसे भारत में कभी ऐसे दृश्य फिल्मों में प्रदर्शित नहीं किया गया था सीधे तौर पर अपशब्द का  इस्तेमाल किया गया था शेखर कपूर की हिम्मत को दाग देनी चाहिए जिन्होंने इतनी बड़ी साहस की और दुनिया के मशहूर फिल्म डायरेक्टर बन गए फिल्म के कुछ ऐसे दृश्य है जो लोगों को हिला कर रख देती है जबकि सत्य घटना पर आधारित फिल्म थी शेखर कपूर ने यह साबित कर दिया की किस कलाकार की सोच विचार कितने विभिन्न हो सकते हैं

उन्होंने यह साबित किया कला तो आखिर कला होती है  | फिल्म बैंडिट क्वीन जो भारत की इतिहास में सत्य घटनाओं पर आधारित फिल्म थी यह घटना यह फिल्म आज के तारीख में दुनिया भर में कई भाषाओं में दुनिया के कोने कोने में प्रसारित की जाती है|

 जितनी ख्याति इस फिल्म को मिली शायद ही किसी हिंदी फिल्म को मिली हो शेखर कपूर हमेशा कॉन्ट्रोवर्सी में रहते हैं जब यह बात उन से पूछी जाती है तो उनका कहना है की कलाकार को समाज में जब बुराइयां दिखती है तो उसके खिलाफ आवाज उठाता है |

 हम अपने फिल्म के माध्यम से आवाज उठाते हैं | शेखर कपूर ने एक्टर बनने की कोशिश की लेकिन असफल रहे शेखर कपूर की सबसे बड़ी बात यह है | ना इन्होंने कहीं से एक्टिंग की कोर्स की ना डायरेक्टर का कोर्स किया बल्कि यह सीधे फिल्म बनाने निकल पड़े और सफल  हुए |  जो भारत के इतिहास में हमेशा दर्ज रहेगा और हिस्टोरिकल फिल्म बैंडिट क्वीन को कभी लोग नहीं भूलेंगे |

No comments